Home » राजनीति » क्षेत्रीय दल » मायावती के भाई ने 7 साल के भीतर 18000 फीसदी का मुनाफा कमाया

मायावती के भाई ने 7 साल के भीतर 18000 फीसदी का मुनाफा कमाया

JAN 10 , 2017
उत्‍तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) प्रमुख मायावती की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ सकती हैं। चैनल टाइम्‍स नाउ की रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि मायावती के भाई आनंद कुमार के द्वारा चलाई जा रही कंपनियों ने महज सात साल के भीतर 18 हजार प्रतिशत का मुनाफा कमाया है। इन सात सालों के दौरान पांच सालों तक (2007-2012) तक मायावती सूबे की मुख्‍यमंत्री थीं।

रिपोर्ट का कहना है कि यह मामला अब इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की जांच के घेरे में है। आईटी डिपार्टमेंट आनंद कुमार की 1300 करोड़ रुपये की संपत्ति की जांच कर रहा है। रिपोर्ट में इस मामले को नए साल का सबसे बड़ा पॉलिटिकल स्‍कैंडल बताते हुए कहा गया कि आनंद कुमार कम से कम 12 बड़ी कंपनियों के मालिक हैं। कुमार की 1316 करोड़ की जो संपत्ति जांच के दायरे में है, उसमें 440 करोड़ रुपये कैश जबकि 870 करोड़ रुपये जमीन सहित अचल संपत्ति के रूप में हैं।

Advertisement

रिपोर्ट में कहा गया कि जांच से इस बात का खुलासा हुआ है कि मायावती के भाई द्वारा फर्जी कंपनियां चलाई जाती थीं। ऐसी ही एक कंपनी का नाम दीया रिअल्‍टर्स प्राइवेट लिमिटेड है जिसने सात साल के भीतर 45257 प्रतिशत का मुनाफा कमाया है।

मायावती के भाई के खिलाफ यह खुलासा तब हुआ है जब इसके पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मायावती के भाई के अकाउंट में 1.43 करोड़ और बीएसपी से जुड़े एक खाते में 104 करोड़ रुपये जमा होने का पता लगाया था। रिपोर्टों के मुताबिक, ये पैसे 8 नवंबर को नोटबंदी के बाद खातों में जमा किए गए। इस बात का भी शक जताया गया है कि बीएसपी और मायावती के भाई के खातों में हवाला लेनदेन के जरिए पैसा पहुंचा। 


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.