Home » रहन-सहन » सेहत » गहरी नींद लेंगे तो रहेंगे सदा जवान :विशेषज्ञ

गहरी नींद लेंगे तो रहेंगे सदा जवान :विशेषज्ञ

APR 06 , 2017
नींद की कमी से बुजुर्गों में अल्जाइमर रोग जैसे कई शारीरिक एवं मानसिक विकार पैदा होने का खतरा बढ़ सकता है जबकि गहरी नींद लेने से व्यक्ति सदा जवान बना रह सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने कहा है कि उम्र बढ़ने के साथ व्यक्ति की नींद बार-बार टूटती है, उसे बार-बार शौचालय जाना पड़ता है और इसी प्रकार की अन्य बाधाएं उसकी नींद में खलल डालती हैं। व्यक्ति उम्र बढ़ने के साथ उस तरह गहरी नींद नहीं ले पाता जैसी वह युवावस्था में लेता है।

अनुसंधानकर्ताओं ने उन अध्ययनों की समीक्षा की जिनमें यह दर्शाया गया है कि बुजुर्ग व्यक्ति के दिमाग को वह धीमी मस्तिष्क तरंगें पैदा करने में समस्या होती है जिनसे गहरी नींद आती है।

Advertisement

कम नींद आना की शुरूआत 30 वर्ष की उम्र से

उन्होंने कहा कि युवावस्था में गहरी नींद लेने वाले व्यक्ति को अनियमित एवं असंतोषजनक नींद की शिकायत 30 साल की उम्र के बाद शुरू हो सकती है जिसके कारण उसे उम्र बढ़ने के साथ नींद संबंधी बीमारियां हो सकती हैं।

अमेरिका में यूनीवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया (यूसी) बर्कले के ब्रायसे मांदेर ने कहा, दिमाग के जिन हिस्से में सबसे पहले समस्या होती है, वे वहीं हिस्से हैं जो गहरी नींद में मददगार होते हैं।

नींद की कमी का संबंध याददाश्त से भी

यूसी बर्कले के जोसेफ विनर ने कहा कि उम्र बढ़ने के साथ नींद में कमी का संबंध याददाश्त कम होने से भी जुड़ा है। यूसी बर्कले में प्रोफेसर मैथ्यू वाल्कर ने कहा, उम्र बढ़ने के साथ होने वाली लगभग सभी बीमारियों का संबंध कहीं न कहीं नींद की कमी से जुड़ा है। हमने जीवन काल बढ़ाने की दिशा में तो अच्छा काम किया है लेकिन स्वास्थ्य में सुधार की दिशा में खराब प्रदर्शन रहा है।

नींद की कमी से झुर्रियां एवं बाल सफेद होने जैसी समस्याएां के अलावा अल्जाइमर रोग,  मोटापा और मधुमेह जैसी बीमारियां भी जुड़ी हैं।

यह अध्ययन न्यूरॉन पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

भाषा


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.