Home » देश » पड़ताल » अफसरों के मोबाइल 'प्रेम' पर भड़के पीएम, बैठकों में लगाई फोन पर रोक

अफसरों के मोबाइल 'प्रेम' पर भड़के पीएम, बैठकों में लगाई फोन पर रोक

APR 21 , 2017
सिविल सर्विस डे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईएएस अधिकारियों को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि अफसर मोबाइल पर लगे रहते हैं, इसलिए अब मैंने बैठकों में फोन लाने पर रोक लगा दी है। अफसर हर फैसले को राष्ट्रहित की कसौटी पर तौलें और सत्य निष्ठा से काम करें। मैं आपके साथ खड़ा हूं। हम जो काम करे उसका नतीजा भी आना चाहिए।

उन्होंने इस मौके पर कश्मीर पर भी बड़ा बयान दिया है। पीएम मोदी ने कहा है कि कश्मीर में बाढ़ के वक्त सेना के लिए पत्थरबाज भी तालियां बजाते हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर में बाढ़ आने पर हमारे सैनिक लोगों की जान बचाते हैं, तब लोग उनके लिए तालियां बजाते हैं, पत्थरबाज भी तालियां बजाते हैं, लेकिन बाद में सेना पर पत्थर भी फेंके जाते हैं। 

Advertisement

पीएम मोदी ने कहा कि यह दौर प्रतियोगिता का है इसलिए चुनौती भी ज्यादा बड़ी है। अगर काम करने के तरीके को बदलेंगे तो चुनौती भी अवसर में बदल जाएगी। पीएम के अनुसार सबसे मेधावी छात्र आईएएस बनते हैं इसलिए उन्हें काम भी उसी हिसाब से करना चाहिए।

पीएम ने कहा कि समर्पण भाव से काम करना चाहिए, काम के दौरान नाम कमाने की इच्छा न होना ही सबसे बड़ी ताकत है। कार्य के दौरान अनुभव बोझ नहीं बनना चाहिए। उन्हों ने कहा कि अफसर चाहें तो गंगा साफ हो सकती है।

पीएम मोदी ने कहा कि वह सोशल मीडिया की ताकत को जानते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं जानता हूं सोशल मीडिया की ताकत को, इसके जरिए लोगों को जागरुक किया जा सकता है, लेकिन सोशल मीडिया का इस्तेमाल खुद के प्रचार के लिए नहीं होना चाहिए, बल्कि लोगों की भलाई के लिए इसका इस्तेमाल होना चाहिए'।



अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.