Home » देश » पड़ताल » एग्जिट पोल: चुनाव आयोग ने दैनिक जागरण के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के दिए निर्देश

एग्जिट पोल: चुनाव आयोग ने दैनिक जागरण के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के दिए निर्देश

FEB 13 , 2017
उत्तर प्रदेश में पहले चरण के मतदान से पहले ही एग्जिट पोल का प्रकाशन करना दैनिक जागरण को भारी पड़ गया है। चुनाव आयोग ने दैनिक जागरण के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। आयोग ने जागरण के स्थानीय संपादक समेत अखबार के बड़े संपादकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। आयोग के आदेश के बाद दैनिक जागरण के संपादक पर गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है।

चुनाव आयोग ने चुनाव अधिकारियों से दैनिक जागरण के खिलाफ 15 जिलों में एफआईआर दर्ज कराने को कहा है। जागरण ने पहले चरण के मतदान के दिन पहले पेज पर एग्जिट पोल छापा था, हालांकि इसे जनता की राय कहा गया था। लेकिन आयोग ने इसे गंभीरता से लिया है और जागरण के संपादकों के खिलाफ आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोपी पाया है और एफआईआर दर्ज कराने को कहा है।

Advertisement

दैनिक जागरण के अलावा आयोग ने रिसोर्स डेवेलेपमेंट इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराने को कहा है जिसने इस एग्जिट पोल को कराया था। आयोग ने जागरण के मैनेजिंग एडिटर, एडियर इन चीफ, हिंदी अखबार के एडिटर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं।

आयोग ने जागरण को धारा 188 के उल्लंघन का आरोपी पाया है, इसके अलावा सेक्शन 126 बी का भी आरोपी पाया है। धारा 126 ए के तहत अपराधी को दो साल के लिए जेल भेजा जा सकता है या फिर जुर्माना लगाया जा सकता है या फिर दोनों हो सकता है। आपको बता दें कि दैनिक जागरण ने अपने एग्जिट पोल में भारतीय जनता पार्टी को आगे बताया था। चुनाव आयोग ने उन सभी राज्यों में 8 मार्च तक एग्जिट पोल छापने पर पाबंदी लगा रखी है, जहां चुनाव होने हैं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.