Home » अर्थ जगत » नीतियां » आयकर कानून को सरल बनाने की कवायद, ईश्वर कमेटी ने दूसरी रिपोर्ट सौंपी

आयकर कानून को सरल बनाने की कवायद, ईश्वर कमेटी ने दूसरी रिपोर्ट सौंपी

JAN 01 , 2017
आयकर कानून को सरल बनाने के लिए बनी उच्चस्तरीय समिति की अगुवाई करने वाले न्यायमूर्ति आरवी ईश्वर ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को अपनी दूसरी रिपोर्ट सौंप दी। आयकर कानून 1961 के विभिन्न प्रावधानों के सरलीकरण के बारे में सुझाव देने के लिये 27 अक्टूबर 2015 को न्यायमूर्ति ईश्वर की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया था। समिति ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी।

समिति को आयकर कानून के उन प्रावधानों की पहचान करने को कहा गया था जिनके गलत ढंग परिभाषित किए जाने की वजह से अक्सर कर विवाद खड़े होते हैं। इसके साथ ही समिति कर कानूनों की वजह से कामकाज की सुगमता पर पड़ने वाले असर का भी आकलन करने को कहा गया था। समिति से कहा गया कि वह कानून के विभिन्न प्रावधानों को सरल बनाने के बारे में सुझाव भी दे।

Advertisement

समिति से कहा गया था कि वह कर आधार और राजस्व उगाही पर अधिक असर डाले बिना ऐसे सुझाव दे जिससे कि कानून का पालन सरल हो और कारोबार सुगमता परिवेश बेहतर हो। समिति ने इससे पहले जनवरी 2016 में अपनी रिपोर्ट सौंपी थी।

इस रिपोर्ट को सार्वजनिक भी कर दिया गया है। समिति ने इसमें स्रोत पर कर कटौती के प्रावधानों पर अपने सुझाव दिये थे। इसके अलावा कर योग्य आय में से व्यय कटौती दावों और कर रिफंड के बारे में में भी सुझाव दिये थे।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.