Home » अर्थ जगत » नीतियां » पेट्रोल पंपों पर कार्ड के जरिए भुगतान की मौजूदा सुविधा 13 जनवरी के बाद भी

पेट्रोल पंपों पर कार्ड के जरिए भुगतान की मौजूदा सुविधा 13 जनवरी के बाद भी

JAN 09 , 2017
केंद्र सरकार ने सोमवार को कहा कि पेट्रोल पंपों पर ग्राहकों के लिए बिना किसी अतिरिक्त खर्च के क्रेडिट या डेबिट कार्ड से ईंधन के भुगतान की सुविधा 13 जनवरी के बाद भी जारी रहेगी। सरकार का कहना है कि कार्ड से लेन-देन पर वाणिज्यिक-प्रतिष्ठान कटौती शुुल्‍क :एमडीआर: का बोझ कौन उठाए, इस पर बैंकों और तेल कंपनियों के बीच बातचीत चल रही है।

गौरतलब है कि रविवार को पंपों ने धमकी दे दी थी कि वे 13 जनवरी के बाद कार्ड से भुगतान लेना बंद कर देंगे क्यों कि बैंक उनसे कार्ड मशीन से भुगतान पर एक प्रतिशत एमडीआर शुल्क मांग रहे हैं। सरकार ने लाखों ग्राहकों के लिए संकट की इस स्थिति को टालने के एक दिन बाद यह बयान दिया है।

Advertisement

पेट्रोलियम धर्मेंद्र प्रधान ने यहां वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलकात के बाद संवाददाताओं से कहा, वाणिज्यिक-प्रतिष्ठान कटौती शुल्क :एमडीआर: रिजर्व बैंक के दिशा निर्देशों के अनुसार ही लागू किया जाएगा। पर इसका बोझ किस पर पड़े, इस बारे में तेल विपणन कंपनियां और बैंकों के बीच बातचीत चल रही है। उन्होंने कहा, हम आश्वासन दे चुके थे कि चूंकि पंप मालिक कमीशन एजेंट के रूप में काम करते हैंं, इस लिए हम उन पर कार्ड भुगतान खर्च का बोझ नहीं डालेंगे।

पेट्रोलियम मंत्री धमेंद्र प्रधान ने भरोसा दिया है कि 13 जनवरी के बाद भी लोग आसानी से पेट्रोल पंपों पर अपने क्रेडिट कार्ड से भुगतान कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि जिस मुद्दे को लेकर पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन और बैंकों के बीच मतभेद हैं उसे जल्द सुलझा लिया जाएगा। साथ ही धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि एमडीआर विवाद का असर उपभोक्ताओं पर नहीं पड़ेगा और उन्हें कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। वहीं ऑल इंडिया पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने 14 जनवरी से कार्ड पेमेंट को स्वीकार नहीं करने का ऐलान किया है।

दरअसल बैंकों ने पेट्रोल पंप मालिकों से ट्रांजेक्शन फीस वसूलने का फरमान सुनाया, इस फैसले के विरोध में पेट्रोल पंप एसोसिएशन का कहना कि वो ऐसे हालात में कार्ड पेमेंट को मंजूर नहीं करेंगे। एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय बंसल ने एक प्रेस रिलीज जारी कर जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि बैंकों ने पेट्रोलियम डीलर्स को सूचित किया है कि वे क्रेडिट कार्ड से होने वाले लेनदेन पर 1 फीसदी और डेबिट कार्ड से होने वाले लेनदेन पर 0.25 फीसदी से 1 फीसदी के बीच शुल्क वसूलेंगे। भाषा 


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.