Home » कला-संस्कृति » संगीत/नृत्य » चित्रा सिंह 27 साल बाद मंच पर आईं, लेकिन गा नहीं सकीं

चित्रा सिंह 27 साल बाद मंच पर आईं, लेकिन गा नहीं सकीं

APR 16 , 2017
मशहूर गजल गायिका चित्रा सिंह बनारस के संकट मोचन संगीत समारोह में पहुंचीं लेकिन अस्वस्थ्ता के कारण गा न सकीं और मंच से उतर आईं।

उन्हें शनिवार की रात संकट मोचन संगीत समारोह की पहली निशा में अपनी प्रस्तुति देनी थी। पं. विश्वनाथ के गायन के बाद चित्रा सिंह मंच पर पहुंचीं। उन्हें संकट मोचन मंदिर के महंत प्रो. विश्वंभरनाथ मिश्र ने स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। चित्रा ने हनुमान जी को हाथ जोड़ते हुए कहा कि अस्वस्थता के कारण गाना तो बंद हो गया है। जिंदा रही तो अगले साल इसी मंच से गाएंगी। बहुत आग्रह के बाद भी वह गा न सकीं और माइक लौटा दिया।

Advertisement

संकट मोचन के महंत ने प्रेरित भी किया। उन्होंने कहा कि हनुमान जी की कृपा होगी तो चित्रा सिंह जरूर गाएंगी। इस पर उनकी आंखों से आंसू आ गए और वह मंच से नीचे उतर आईंं। मशहूर गजल गायक दिवंगत जगजीत सिंह की पत्नी और मशहूर गजल गायिका चित्रा सिंह 27 साल बाद किसी मंच पर अपनी प्रस्तुति देने वाली थीं।

चित्रा सिंह ने साल 1990 में अपने जवान बेटे की एक हादसे में हुई मौत के बाद से गाना छाेड़ दिया था। संकट मोचन मंदिर में हो रहे संगीत समारोह से वह एक बार फिर मंच गायिकी की शुरुआत करने वाली थीं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.