Home » कला-संस्कृति » सामान्य » नीतीश को सात निश्चय पर आधारित कलाकृति भेंट की गयी

नीतीश को सात निश्चय पर आधारित कलाकृति भेंट की गयी

FEB 16 , 2017
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काो लोक कलाकारों ने आज उनकी सात निश्चय योजनाओं पर आधारित एक कलाकृति भेंट की, जिसे 23वें पटना पुस्तक मेले के दौरान मेड इन इंडिया कलाग्राम में आये लोक कला के 40 पारंगत कलाकारों तथा निफ्ट पटना के 120 छात्र-छात्राओं ने मिलकर बनाई है। इस कलाकृति में 13 राज्यों से आये कलाकारों ने 19 लोक कला शैलियों का प्रदर्शन किया है।

    ‌‌

Advertisement

  पटना के एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास पहुंचे  द इंडिया आर्ट इन्वेंस्टमेंट कंपनी से जुडे लोक कलाकारों तथा निफ्ट पटना के छात्रा-छात्राओं ने नीतीश को सात निश्चय पर आधारित यह कलाकृति भेंट की।

   मुख्यमंत्री ने इस कलाकृति को अद्भुत बताते हुए इसे मुख्य सचिवालय में स्थापित कराने का निर्देश दिया। कलाकारों द्वारा ऐसी दो और कलाकृतियां भेंट की जाएंगी जिसे बुद्ध स्मृति पार्क और राजधानी वाटिका में लगाया जायेगा।

   इस कलाकृति को बनाने वाले कलाकारों में आठ वर्ष की नन्हीं करिश्मा से लेकर बिहार की गौरव पदमश्री से सम्मानित 74 वर्षीय बउआ देवी का अमूल्य योगदान है।

   इस कलाकृति में भगवान गौतम बुद्ध को पीपल के पेड़ के नीचे ध्यानमग्न दर्शाया गया है। पीपल के पेड़ की सात शाखाओं को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सात निश्चय योजनाओं का रूप दिया गया है जो कि अलग-अलग कला शैली से चित्रिात है।

   कलाकृति मधुबनी (बिहार), पढ़ (राजस्थान),  संथाल (पश्चिम बंगाल), पट्ट चित्र (ओडिशा), लिपन (गुजरात), गोंड (मध्यप्रदेश), वार्ली (महाराष्ट्र) आदि कला शैलियों से उकेरी गई है। कलाकृति में मानव श्रृंखला को वार्ली लोक कला शैली से दिखाया गया है।

   द इंडिया आर्ट इन्वेंस्टमेंट कंपनी से जुड़े लोक कलाकारों ने मुख्यमंत्री को आर.आर. दिवाकर द्वारा लिखित पुस्तक बिहार थ्रू एजेज,  अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिह्न भेंटकर सम्मानित किया।

एजेंसी


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल
आपका आज का भविष्यफल

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.